*M24न्यूज़ Uttar Pradesh Kanpur*                                           *रिपोर्ट  अभिलाष पांडेय के साथ  सौरभ बाजपेयी* *PCS अफसर अजय त्रिवेदी  के बेटे  ने  किया  टॉप 97.8 % से बोर्ड  में  गाड़े  सफलता के झंडे*

पूर्णचन्द्र विद्यानिकेतन के  हाईस्कूल के  छात्र  अध्यात्म त्रिवेदी ने किया स्कूल टॉप ।  M24न्यूज़  से  खास बातचीत में  अध्यात्म का कहना  है  कि हार्ड वर्क  नही स्मार्ट  वर्क को बताया  सफलता  का  राज । अध्यात्म  का कहना है  बिना  मेहनत के सफलता प्राप्त  नहीं  की जा सकती सफलता न मिले  तो निराश नहीं  होना चाहिए   बल्कि   सफलता  के साथ  दुबारा कड़ी  मेहनत करनी  चाहिए । दसवीं  की परीक्षा  में 97.8%   अंक अर्जित  करके  जिले का नाम  रौशन किया।

सवाल – : परीक्षा टॉप करने के बाद कैसा लग रहा है?

जवाब – : मैं बहुत सौभाग्यशाली हूं, जो हमेशा से टीचरों और पैरेंट्स का सपोर्ट मिला है। आज मुझे जो सफलता मिली है यह उसी का नतीजा है। मुझे पहले से ही उम्मीद थी कि अच्छे अंक आएंगे।

सवाल – : इस बार परीक्षा में काफी सख्ती रही इसको लेकर क्या कहेंगे?

जवाब : जी हां,इस बार बोर्ड एग्जाम में अब पहले ज्यादा काफी सख्ती हो गई है। जिसकी वजह से बहुत से बच्चों ने परीक्षा नहीं दी है। ये पूरी तरह से नकलविहीन परीक्षा थी जिसकी वजह से जो पढ़ाई करने वाले छात्र हैं, वही पास हो रहे हैं। नकल के सहारे रहने वाले बच्चे परीक्षा छोड़ रहे हैं।

सवाल : क्या उम्मीद थी की परीक्षा में टॉप करेंगे?

जवाब :मेरे घर में पापा और मम्मी मुझे पढ़ाई के लेकर बहुत सपोर्ट करते थे। काम की वजह से पापा मुझ पर कम ध्यान दे पाते थे लेकिन मम्मी मुझे बहुत मॉटिवेट करती थीं। पढ़ाई को लेकर मुझे कभी किसी ने डांट नहीं लगाई है। मेरे मन में कोई ऐसा विचार नही था कि मै टाॅप करुंगा, बल्कि मैं अपने ढंग से अपनी पढ़ाई करके परीक्षा दे रहा था। हालांकि जब एग्जाम समाप्त हुए तो मुझे विश्वास था कि मेरे नंबर 98 से 99 प्रतिशत के बीच में रहेंगे।

सवाल : -छात्र और छात्राओं के लिए क्या सलाह देना चाहेंगे?
जवाब : -मैं बस यही कहना चाहता हूं कि परीक्षा के वक्त याद करने का सबसे अच्छा तरीका लिख-लिख कर याद करने का होता है। जब आप किसी सब्जेक्ट को लिख-लिख कर याद करेंगे तो एग्जाम की कापी में वर्ड टू वर्ड उतार कर आएंगे। इस बात का हमेशा ध्यान रखने पर हमेशा अच्छे परिणाम मिलेंगे।

रिपोर्ट कार्ड :-

अंग्रेजी  -100

हिंदी -99

मैथ – 99
 
साइंस – 96

सोशल साइंस  -95

कंप्यूटर  – 99

कोचिंग का  नही लिया सहारा। 4 से 5 घंटे  करते  थे  पढ़ाई । सोशल मीडिया पर न के बराबर ।  वही  पिछले  साल अध्यात्म के बड़े भाई आराध्य  ने  अच्छे अंक प्राप्त किये  थे ।  अध्यात्म  बताते  हैं  कि वह अपने बड़े  भाई  से प्रेरित होकर  अपना लक्ष्य तय किया ।  अध्यात्म त्रिवेदी ने  सफलता का श्रेय अपने  माता-पिता  को दिया । अध्यात्म के  पिता श्री अजय त्रिवेदी  PCS अफसर हैं और  मां  गृहणी है ।  अध्यात्म   कि संगीत  में  भी अच्छी  कमांड  है  । मेडिकल  की तैयारी करना चाहते है अध्यात्म ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here