केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह बोले- हनुमान दलित नहीं बल्कि आर्य थे

0
34

केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह बोले- हनुमान दलित नहीं बल्कि आर्य थे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा के फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान की एक चुनावी सभा में भगवान हनुमान को दलित बता दिया. योगी के भगवान हनुमान को दलित बताने पर देश में बहस छिड़ गई है. अब उन्ही के पार्टी के नेता व केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह ने भगवान हनुमान को आर्य बताया है. केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह ने कहा है कि, ‘भगवान राम और हनुमान जी के युग में, इस देश में कोई जाति-व्यवस्था नहीं थी. कोई दलित, वंचित और शोषित नहीं था. वाल्मिकी रामायण और रामचरित मानस को आप अगर पढ़ेंगे तो आपको मालूम चलेगा की उस समय कोई जाति व्यवस्था नहीं थी.’ बता दें, उन्होंने योगी आदित्यनाथ के बयान पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया.

 

आपको बता दें कि राजस्थान के अलवर जिले के मालाखेड़ा में चुनावी सभा में योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि, ‘बजरंगबली एक ऐसे लोग देवता हैं जो स्वयं वनवासी हैं, गिर वासी हैं, दलित हैं और वंचित हैं.’

योगी के बयान पर अनूसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने भगवान हनुमान को अनूसूचित जनजाति का बता दिया है. उन्होंने कहा कि, ‘लोग समझते हैं राम की सेना में वानर थे, भालू थे और गिद्ध थे. ऐसा नहीं है. हमारी जनजाति, हमारे समाज में गिद्ध और हनुमान गोत्र हैं. ये तो वो आदिवासी थे जो भगवान राम की लड़ाई में उनके साथ गए थे.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here