दिनांक 09.10.2020 को चन्द्रमेढ़ा पीपरपारा निवासी समीमा खान ने चौकी चेन्द्रा में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 29-30 सितम्बर की दरम्यिानी रात्रि में किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा घर के सामने खड़े सेन्ट्रो कार क्र. सीजी 15 बी 0728 को चोरी कर लिया है कि रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 81/20 धारा 379 भादसं. का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया। चोरी के मामले की सूचना पर *पुलिस अधीक्षक सूरजपुर* ने चैकी प्रभारी चेन्द्रा को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। 
           एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में मामले की पतासाजी व विवेचना के दौरान शनिवार 10 अक्टूबर को चौकी प्रभारी आराधना बनोदे को जानकारी मिली कि पीपरपारा निवासी संजय पैंकरा कार चोरी की घटना के बाद से गांव में कम दिख रहा है जिस पर उसे तलब कर बारीकी से पूछताछ की गई। पूछताछ पर उसने बताया कि योगेश कुमार उर्फ बबलू एवं बेला सिंह पैंकरा के साथ मिलकर कार चोरी की योजना बनाई और 29-30 सितम्बर की दरम्यिानी रात्रि में ट्रेक्टर की चाभी लगाकर सेन्ट्रो कार स्टार्ट कर चोरी कर कार को नर्सरी में छुपा दिया। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस टीम ने *चोरी की सेन्ट्रो कार कीमत 70 हजार रूपये व कार को स्टार्ट करने में प्रयुक्त टेक्टर की चाभी* जप्त कर आरोपी ग्राम चन्द्रमेढ़ा पीपरपारा निवासी 21 वर्षीय संजय पैंकरा पिता बालचंद पैंकरा, 29 वर्षीय योगेश कुमार उर्फ बबलू पिता स्व. सुमेरी यादव व 29 वर्षीय बेला सिंह पैकरा पिता गोपाल राम पैंकरा को विधिवत् गिरफ्तार किया गया है।
            इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी चेन्द्रा आराधना बनोदे, एएसआई लक्ष्मी प्रसाद गुप्ता, प्रधान आरक्षक अनिल कुमार, आरक्षक सुशील मिश्रा, संतोष जयसवाल, विनोद प्रताप सिंह, लालमन राजवाड़े, करण सिंह नेताम, बमबम चैधरी, रामकुमार सिंह, मनोज केरकेट्टा व अबिरन सिंह सक्रिय रहे।

हमारे whatsapp न्यूज़ updates group से जुड़ने के लिए click here